रोज गर्म पानी में नहाने से आ सकती है कमजोरी

ठंड के मौसम में हर कोई गर्म पानी में नहाना पसंद करते हैं और यह मौसम बहुत ही सुहावना और खुशनुमा होता है इसलिए गर्म पानी में नहाने में और भी ज्यादा अच्छा लगता है लेकिन यह गर्म पानी हमारे सेहत के लिए कितना ज्यादा हानिकारक होता है इससे बहुत कम लोग जानते हैं गर्म पानी मैं रोज नहाने से शरीर के ऊपर के उत्तक नष्ट हो जाते हैं

यह उत्तक धूल प्रदूषण और सूर्य के हानिकारक विकिरण से हमारी रक्षा करता है इसके अलावा हमारे शरीर के संपूर्ण भाग में कहीं भी कटता है या चोट लग जाती है तो यही उत्तक उस कटे हुए स्थान या चोट को ठीक करने का काम करता है जो रोज गर्म पानी में नहाने से धीरे धीरे समाप्त होते जाता है और इसके फलस्वरूप हमारा शरीर धीरे-धीरे कमजोर होते जाता है इसके अलावा हमारे शरीर में पूरे रक्त का संचालन करने में इस उत्तक का विशेष योगदान रहता है

इसके अलावा हमारे शरीर में बहुत प्रकार की गंदगी जो धूल डस्ट के कारण हमारे शरीर में चिपक जाती है उसमें उपस्थित कीटाणुओं से भी लड़ने का काम यह उत्तक करती है यह उत्तक हमारे शरीर में बहुत से प्रकार के होते हैं जिसमें अलग अलग उत्तक अलग अलग तरह से काम करते हैं और हमारे शरीर की रक्षा करते रहते हैं इस कारण से रोज रोज गर्म पानी में नहाने से हमारे शरीर में धीरे धीरे कमजोरी आते जाती है यह कमजोरी धीरे-धीरे आती है इस कारण से हमें पता नहीं चल पाता है

Add Comment